नो प्लास्टिक अभियान को लेकर रायपुर हुआ एकजुट

रायपुर : जिला प्रशासन व रायपुर नगर निगम की पहल पर “नो प्लास्टिक अभियान” से पूरा रायपुर तेजी से जुड़ने लगा है। दर्जन भर से अधिक स्कूलों ने प्रतिबंधित प्लास्टिक के उपयोग को रोकने स्वयं ही आज पहल की है, वहीं शासकीय व गैर शासकीय महाविद्यालयों ने अपने विद्यार्थियों को झुग्गी बस्तियों, प्रमुख बाजारों व आवासीय परिसरों में भेजकर जन-जागरुकता की कमान संभाल ली है। कई संगठन रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के साथ मिलकर नुक्कड़-नाटकों की श्रृंखला भी मंगलवार से शुरु कर रहा है। कमिश्नर शिव अनंत तायल के निर्देश पर नगर निगम के सभी जोन अपने क्षेत्रों के बाजारों व सार्वजनिक स्थलों में जाकर प्रतिबंधित प्लास्टिक पर अंकुश लगाने कार्यवाही शुरू कर दी है।

नो प्लास्टिक अभियान के तहत रायपुर में संचालित बेबीलाॅन स्कूल ने अपनी कार्यकारिणी की बैठक में सभी पालकों को अवगत कराने का निर्णय लिया है कि नुकसानदेह प्लास्टिक के पानी बोतल व टिफिन लेकर बच्चों को स्कूल न भेजें। इस तरह के संदेश पालकों और स्कूल कर्मियों को देकर यह स्कूल नो प्लास्टिक जोन की श्रेणी में स्वयं का लायेगा। शासकीय नर्सिंग महाविद्यालय के छात्राओं ने आज नो प्लास्टिक अभियान से स्वयं को जोड़ा और रजिस्ट्रार वंदना चंसोरिया ने सभी नर्सिंग छात्राओं को परिसर में व अपने घरों में प्रतिबंधित प्लास्टिक का उपयोग न करने की शपथ दिलाई। ये छात्राएं प्लास्टिक के उपयोग को रोकने टिकरापारा बाजार, शास्त्री बाजार में आम लोगों से मिलेंगी और स्वयं अभियान का संचालन करेंगी।
दुर्घटना में अपना दोनों पैर खो चुके युवा इंजीनियर व ब्लेड रनर चित्रसेन साहू नो प्लास्टिक कैंपेन के ब्रांड एंबेसडर होंगे। चित्रसेन अफ्रीका महाद्वीप में 5895 मीटर की ऊंचाई में किलिमंजारो की पर्वत चोटी पर फतह कर नो प्लास्टिक इन मोर रायपुर का संदेश देंगे। डबल लेक एम्युटी माउंटेनियर चित्रसेन दक्षिण अफ्रीका रवाना होने से पहले स्मार्ट सिटी अधिकारियों से मिलें, जहां उन्हें इस ऊंची चोटी पर फतह के लिए पूरे रायपुर की तरफ से शुभकामनाएं दी गई। दृष्टिबाधित छात्राओं के गाए “मोर रायपुर सॉन्ग” को हर घर तक पहुंचाने वाले राग म्यूजिक बैंड एम.एम. उपाध्याय, अनुराग शर्मा, वाई जी पी टी की हेड पल्लवी शिल्पी,राजश्री फाउंडेशन की हेड निधि अग्रवाल की टीम के साथ “होटल क्लार्क द सुट्स“ में प्लास्टिक वस्तुओं के उपयोग न करने की समझाइश दी । राग फाउंडेशन , राजश्री फाउंडेशन ,वाई जी पी टी की टीम मंगलवार की सुबह वाधवा स्कूल आनंद नगर में बच्चों को नो प्लास्टिक अभियान से जोड़ने पहुंचेगी। स्कूल प्रबंधन को प्लास्टिक मुक्त संस्थान बनाने के शपथ के बाद यह टीम तेलीबांधा सब्जी बाजार और व्यापारिक संस्थानों को भी इस अभियान से जोडे़गी। कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय में टेक्नोकिंग एंड सॉल्यूशन की टीम ने साइबर एक्सपर्ट मोनाली गुहा के साथ प्रतिबंधित प्लास्टिक का उपयोग ना करने रैली निकाली। पत्रकारिता के छात्र-छात्राओं ने काठाडीह गांव में जागरूकता अभियान संचालित किया। नगर निगम के जोन 8 कमिश्नर प्रवीण गहलोत के नेतृत्व में बाइक रैली का आयोजन कर प्लास्टिक से होने वाले नुकसान बताए गए। कमिश्नर तायल के निर्देश पर जोन 8 में महोबा बाजार, टाटीबंध, हीरापुर, कोटा व रामनगर के पांच बाजारों को चिन्हांकित कर प्लास्टिक के उपयोग को रोकने की तैयारी की जा रही है। इन बाजारों में स्व-सहायता समूह की महिलाएं कपड़े के बने थैले उपलब्ध कराएंगे। इन बाजारों को संचालित कर रहे व्यापारियों ने भी नो प्लास्टिक अभियान में पूर्ण सहभागिता दिखाई है। नगर निगम के सभी जोन में प्रतिबंधित प्लास्टिक के विरुद्ध अभियान तेज कर