सबरिया लोगो के द्वारा लगभग 35 एकड़ शासकीय भूमि पर अवैध कब्जा…… पढ़िये रायगढ़ रिपोर्टर

संवाद दाता -दिलीप  यादव जैजैपुर

*जैजैपुर* ग्रामीणों ने बताया कि जैजैपुर अंतर्गत ग्राम अकलसरा में बालिका छात्रावास के बगल में सबरिया डेरा है जहाँ सबरिया लोग रहते हैं वो 30-40 सालों से दूसरे राज्य से आकर यहाँ बसे हुए हैं।ये सबरिया लोग लगभग 35 एकड़ शासकीय भूमि पर कब्जा जमाकर बैठे हैं और इसमें हर वर्ष धान की खेती करते हैं। सबरिया लोगों कार्य अवैध महुआ शराब की बिक्री कर पैसा कमाना।और हमारे गांव के लोग वहीं सुबह शाम शराब पीने जाते हैं,जिससे गांव का माहौल खराब हो रहा है। शासकीय भूमि के अभाव में हमारे गांव का विकास कार्य ठप पड़ गया है।इसका एक ताजा उदाहरण यह है कि विद्युत सब स्टेशन जो आज कोटेतरा में बनी है वो अकलसरा के उसी सबरिया डेरा में बनना था लेकिन अकलसरा में न बनकर कोटेतरा में बना है कितनी शर्म की बात है हमारे लिये।सबरिया लोग 35 एकड़ शासकीय भूमि पर अवैध कब्जा कर हर वर्ष खेती कर रहे हैं। तीन वर्ष पहले तत्कालीन तहसीलदार जैजैपुर और गांव के लोगों द्वारा हटाया तो गया लेकिन उसमें केवल अकलसरा के छोटेलाल चन्द्रा, बरत राम यादव, श्यामलाल विश्व कर्मा का घर टूटाऔर 35एकड़ जमीन से उन लोगों का कब्जा आज भी नही हटा।ऐसा नही है कि सरपंच को इसकी जानकारी नहीं है जानकारी होने के बावजूद भी इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है क्योंकि सरपंच को ग्राम पंचायत के विकास कार्य से कोई सरोकार नहीं है,जिसका खामियाजा ग्रामीणो को भुगतना पड़ रहा है।ग्रामीणों ने जानकारी दी है कि पिछले पांच सालों में कोई विकास कार्य हमारे गांव में देखने को नही मिला है।ग्रामीणों ने यह भी बताया कि इस सम्बंध में तहसीलदार महोदय को आवेदन दिया जाएगा।और फिर से सबरिया डेरा को अतिक्रमण मुक्त किया जाएगा ताकि गांव का विकास हो सके।