शौचालय प्रोत्साहन राशि। डकार गये सरपंच – सचिव, ग्रामीणों में आक्रोश…. पढ़िये रायगढ़ रिपोर्टर

*शासन के पैसों का किया जा रहा बन्दर- बाँट।*

*शौचालय प्रोत्साहन राशि डकार गए सरपंच व सचिव।*

*ग्रामीणों में आक्रोश*
*कई महीनों से नहीं मिला पेन्शन*

*जांजगीर -चांपा*/ *जैजैपुर* जनपद पंचायत जैजैपुर के अंतर्गत ग्राम पंचायत कुटराबोड़ की है जहां के ग्रामीणों ने सरपंच सचिव के ऊपर जो स्वच्छ भारत मिशन के तहत शासन के द्वारा जनता को शौचालय निर्माण हेतु दिए जाने वाले प्रोत्साहन राशि में से 27 लाख रुपये को सरपंच सचिव के द्वारा गमन कर लिया गया और ग्रामीणों को इनका भुगतान नहीं किया गया है इसी के चलते ग्रामीणों ने अनेकों बार सरपंच सचिव को भुगतान करने के लिए बोले लेकिन उनके बातों के ऊपर कोई प्रकार का ध्यान नहीं दिया गया इसी समस्या को लेकर जनपद सीईओ के पास गुहार लगाई उनके द्वारा समस्याओं का निराकरण नहीं किया गया तो क्षुब्ध होकर ग्रामीण जनता व महिलाओं के द्वारा जिला कार्यालय माननीय कलेक्टर साहब के पास जाकर गुहार लगाई तत्पश्चात माननीय कलेक्टर महोदय जांजगीर-चांपा ने ग्रामीणों को आश्वासन दिए कि 1 माह के अंतर्गत आप लोगों के समस्याओं का निदान हो जाएगा लेकिन आज लगभग 3 माह व्यतीत होने के बावजूद भी ग्रामीणों का स्वयं के द्वारा निर्मित शौचालय की राशि नहीं मिल पाई जिससे क्षुब्ध होकर ग्रामीणों ने उग्र आंदोलन करने का विचार कर रहे हैं।

ग्रामीणों का कहना है की हमारे ग्राम पंचायत कुटराबोड़ मे ग्राम सभा का बैठक नहीं होता है केवल ग्रामसभा के नाम पर घर-घर जाकर मात्र कुछ लोगों के हस्ताक्षर करा कर खानापूर्ति कर ली जाती है।
ग्रामवासियों का कहना है कि गांव में कोई प्रकार का विकास कार्य अभी तक नहीं कराया गया है न हीं शासन से जो ग्राम विकास के लिए चौदहवे वित्त की राशि नल जल योजना की राशि एवं विभिन्न प्रकार से जो राशि आती है उसका आज तक किसी जगह पर निर्माण कार्य नहीं कराया गया है और साथ ही उन लोगों का यह भी कहना है कि आज करीबन सात-आठ माह हो गया बुजुर्ग लोगों का जो शासन की ओर से जो पेंशन आता है वह भी उन्हें अप्राप्त है जिसके अंतर्गत उन लोगों को खाने पीने के लिए बहुत ही कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।