मंत्री के करीबी होने के कारण कोरोना पॉजिटिव युवक को क्वारंटाईन नहीं किया गया….10 दिन शहर में मटरगश्ती करता रहा ठेकेदार का बेटा

कोरबा न्यूज़ :- कोरबा में कोरोना पॉजेटिव मरीज के बारे में हर घंटे नये खुलासे हो रहे हैं। खबर है कि युवक हास्पीटलाइज होने से पहले 80 से 100 लोगों के संपर्क में आया था, हो सकता है ये आंकड़ा और भी ज्यादा है। लेकिन, इस पूरे प्रकरण में स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही भी सामने आयी है। सबसे बड़ी लापरवाही तो यही कि स्वास्थ्य विभाग ने सेंट्रल गाइडलाइऩ का खुल्लम खुल्ला उल्लंघन कर विदेश से लौटे इस स्टूडेंट खुलेआम शहर में पार्टी और घूमने की इजाजत कैसे दे दी। दर्ज FIR में इस बात का जिक्र है कि विदेश से लौटे इस युवक ने ना तो आइसोलेशन नियमों का पालन किया और जिला प्रशासन को भी अंधेरे में भी रखा। इधर युवक का एक सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है, जिसमें युवक इधर-उधर घूमते और आफिस में मीटिंग करते हुए नजर आ रहा है।

घर वाले भी स्वीकार कर रहे हैं कि कोरोना के बाद भी वह आफिस आया था। युवक का मोबाइल लोकेशन भी इसकी चुगली कर रहा है। आफिस का मोबाइल लोकेशन मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी आफिस पहुंचे तो युवक के पिता ने बताया कि कुछ देर के लिए वह आफिस आया था, लेकिन हमलोगों ने उसे डांट कर भगा दिया।